What is vanbandhu kalyan yojana or scheme? In this article we shared all the details regarding that. केंद्रीय जनजातीय मामलों के मंत्रालय ने 28 अक्टूबर 2014 को आदिवासी लोगों के कल्याण के लिए और विशेष रूप से जनजातीय लोगों के मानव विकास सूचकांकों को उठाने के लिए वनबंधु कल्याण योजना (वीकेवाई) शुरू की। यह योजना राज्यों/केंद्र सरकार के आदिम कल्याण मंत्रियों की बैठक के दौरान शुरू की गई थी।

भारत की जनजातीय आबादी के समग्र विकास और कल्याण के लिए भारत सरकार द्वारा वनबंधु कल्याण योजना शुरू की गई है। जनजातीय मामलों के मंत्रालय द्वारा उल्लिखित इस योजना को प्रायोगिक आधार पर शुरू किया गया है और इस योजना के लिए चुने जा रहे 10 राज्यों में से प्रत्येक में केवल 1 ब्लॉक में लागू किया जाएगा । जिन राज्यों को चुना गया है उनमें आंध्र प्रदेश, मध्य प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, तेलंगाना, उड़ीसा, झारखंड, छत्तीसगढ़, राजस्थान, महाराष्ट्र और गुजरात शामिल हैं। राज्यों में क्षेत्रों का चयन संबंधित राज्य सरकारों की सिफारिशों के आधार पर किया गया है।

भारत सरकार, जनजातीय कार्य मंत्रालय ने आदिवासियों के कल्याण के लिए वनबंधु कल्याण योजना (वीकेवाई) शुरू की है। वीकेवाई का उद्देश्य जनजातीय लोगों के आवश्यकता आधारित और परिणामोन्मुखी समग्र विकास के लिए सक्षम वातावरण बनाना है। इस प्रक्रिया में यह सुनिश्चित करने की परिकल्पना की गई है कि केंद्र और राज्य सरकारों के विभिन्न कार्यक्रमों/योजनाओं के तहत वस्तुओं और सेवाओं के सभी लक्षित लाभ वास्तव में उचित संस्थागत तंत्र के माध्यम से संसाधनों के अभिसरण द्वारा लक्षित समूहों तक पहुंचें ।

Vanbandhu Kalyan Yojana
Vanbandhu Kalyan Yojana

वनबंधु कल्याण योजना ऑनलाइन

इस योजना में देश की जनजातीय आबादी को अन्य सामाजिक समूहों के समकक्ष लाने और उन्हें राष्ट्र की समग्र प्रगति में शामिल करने का प्रस्ताव है। इसमें ठोस संस्थागत तंत्र ों को खड़ा करने का प्रयास किया गया है जिससे सभी केंद्रीय और राज्य योजनाओं के सभी लाभों को संसाधनों के अभिसरण द्वारा लक्षित आबादी तक पहुंचने में मदद मिलेगी ।

सरकार का उद्देश्य मानव विकास सूचकांकों में ढांचागत कमियों और पिछड़ों को दूर करके आदिवासियों के समग्र विकास के लिए है । शुरुआती चरण में कम से कम 33% आदिवासी आबादी वाले ब्लॉकों को लक्षित किया जाएगा। साथ ही अर्थव्यवस्था में वस्तुओं और सेवाओं की डिलीवरी करने वाले पहले से मौजूद संस्थानों को और मजबूत करने की जरूरत है । राज्य सरकारों द्वारा आवंटित धन का समुचित उपयोग कार्यान्वयन की मजबूत प्रणालियों के निर्माण के लिए किया जाना चाहिए ।

साथ ही आदिवासी लोगों को सतत विकास और सभ्य जीवन यापन करने के लिए कौशल विकास को बढ़ावा देने और रोजगार पैदा करने के लिए पहल की जाएगी । For more info about vanbandhu kalyan yojana you can write in the below comment section.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here